Free Download Gaurav Krishnan Ji Bhajan Mp3 And Lyrics In Hindhi Shri Bankey Bihari Ji Bhajans By Mridul And Gaurav Ji Maharaj 1. Har Ek Pe Aitebar Nahi Hota-Shri Gaurav Krishna Goswami Ji.mp3 2. Hari bhaj hari bhaj re man + sankirtan-shri gaurav krishna goswami ji.mp3 3. Hey murlidhar banke bihari-shri mridul krishna ji.mp3 4. Hey radhika-shri mridul krishna shastri ji.mp3 5. Jaadu bhari teri aankhen by sri gaurav krishna goswami ji.mp3 6. Jab hans akela udd jayega by gaurav krishna goswami ji.mp3 7. Jab se banke bihari-shri gaurav krishna goswami ji.mp3 8. Jai govinda gopala-shri gaurav krishna ji.mp3 9. Jai radhe radhe-radhe radhe radhe barsanewali radhe-shri gaurav krishna goswami ji.mp3 10. JARA CHAL KE VRINDAVAN DEKHO By Shri Mridul Krishna Shastri Ji.mp3



Enjoy Shri Mridul Krishnan Ji And Shri Gaurav Krishnan Ji Maharaj Bankey Bihari Bhajans...' Jab Se Banke Bihari Hamare Hue, To Gum Ki Duniya Se Hum To Kinare Hue With Some Great MeeraBai's  Doha.....

Shri Bankey Bihari Ji Bhajans By Mridul And Gaurav Ji Maharaj :-



Jab Se Banke Bihari Hamare Hue Gaurav Krishnan Ji Bhajan Lyrics Hindhi :-


जब से बनके बिहारी हमारे हुए , गम कि दुनिया से हम तो किनारे हुए !
अब कही देखने कि न खवाहिश रही , जब से वो अपनी नजरो के तारे हुए... !!

दर्द ही अब हमारी दवा बन गया , खुद ब खुद मिट गयी मेरी सभी मुश्कलें !
जब से वो ज़िंदगी के सहारे हुए, तो गम ज़माने के सरे किनारे हुए.....!!

अरी में तो प्रेम दीवानी , मेरो दर्द न जाए कोई

घायल कि गति घायल जाने जो कोई घायल होई ,
जोहरी कि गति जोहरी जाने जो कोई जहरी होई !!

मीरा के प्रभु गिरधर नागर 

बाबुल वैध बुलाईये पकड़ दिखाई मेरी बहाँ,
पर मूर्ख वैध मर्म न जाने कसक कलेजे माई

जा वेधा घर आपने तू मारो नाम न ले ,
में तो दासी विरह कि तू औषधि काहे को दे

दर्द कि मारी बन बन डोलू पर वैध मिला न कोई ,
मीरा के प्रभु पीड मिटे जब वैध सांवरिया हो !!

 ऐ मेरे रहबर मुझे फिर खुद से दूर कर दे, क्यूंकि लगता है मंजिल करीब है ....

ऐ श्याम मेरे दिल को वो मर्ज़ लगा देना ,
हो दर्द तेरा जिसमे फिर भी न दवा देना...
एक दिन तो मिलेंगे ही बोलेंगे हसेंगे ही ,
इस खाव्बो तमम्ना से हरगीज न जगा देना..

Share To:

Dheeraj4uall

Post A Comment:

0 comments so far,add yours