01_15


Album Name : Pagal Ke Pagal
Singer Name : Chitra Vichitra Ji Maharaj
Music : Bijender Chauhan
Producer : Rajesh Batra
Copyright : Saawariya Music & Films
Vendor A2z Music Media. 

तमन्ना यही है की उड़के बरसाने में आऊँ,
आके बरसाने में मेरे दिल की हशरतों को फरमाऊँ.....
की जिस घड़ी तेरे मंदिर की चोकट पे पहुंच जाऊँगा.....
पकड़ मंदिर की जाली को अपने दिल फरमान गाऊँगा....

Free Download Pagal Ke Pagal Bhajan Album :-




Hum Pagal Hai Pagal Vrindavan Dham Ke Hindi Lyrics :-


Hum Pagal Hai Pagal Vrindavan Dham Ke

हम पागल है पागल वृंदावन धाम के......
वृंदावन धाम के श्री श्यामा श्याम के.....
हम पागल है पागल वृंदावन धाम के.....

डोले श्याम नाम के पागल वृन्दावन पागल खाने में 
मस्ती में मस्त है रहते मिले पागलपन नज़राने में....
मन तू भी पागल होजा बस तान तरंग में खोज,
चढ़ जाए नशा फिर तुझको नाम के जाम में......

हम पागल है पागल वृंदावन धाम के......
वृंदावन धाम के श्री श्यामा श्याम के.....

पूरे मन से जो लग जाता वो लगकर तुझे पा लेता है,
सदा अंग संग हरि रहता पर ध्यान ना कोई देता है.......
कोई झुठे नाम के पागल कोई सच्चे श्याम के पागल,
यहां दूर दूर तक पागल जगत तमाम मे..

हम पागल है पागल वृंदावन धाम के......
वृंदावन धाम के श्री श्यामा श्याम के.....

कितने हुए अब तक पागल इनकी न कोई समाई,
मीरा, कर्मा, विधुरानी, सबरी, गोपाली बाई.....
पावन भक्तो के चरित्र ह्रदय को करे पवित्र,
पागल करे चित्र विचित्र श्री राधा नाम से....

हम पागल है पागल वृंदावन धाम के......
वृंदावन धाम के श्री श्यामा श्याम के.....
हम पागल है पागल वृंदावन धाम के.....



Enjoy Shri Mridul Krishna Shastri Ji And Shri Gaurav Krishna Goswami Ji Maharaj Bhagwat Bhajans With Lyrics....

जब उनके तीरे नज़र मेरे दिल के पार हुए,
वो लुफ्त आया कि शिकार बार बार हुए...
बहोत अजीब है ये बंदिशे मोहब्बत की,
ना उसने कैद किया ना हम फरार हुए.....



Download Mridul Gaurav Ji Bhagwat Bhajans Here :-


1. Govind Chale Aao Mridul Ji.mp3

2. Govind Mero Hai + Malwari Bhajan-Shalimar Gardan.mp3

3. Hamare Sath Hain Raghunath Ji Hame Kis Bat ki Chinta By Gaurav Krishna Ji.mp3

4. Hame To Joganiya Banaye Gayo Ri By Shri Mridul Krishna Ji Maharaj.mp3

5. Hamne Bharosa Kar Liya Sarkar Shyam Ka-Shri Gaurav Krishna Goswami Live.mp3

6. Hanuman Chalisha By Gaurav Krishna Gosvami Ji Maharaj Live .mp3

7. Har taraf har jaagah beshumar aadmi By Gaurav Krishna Ji.mp3

8. Hari Bhaj Hari Bhaj Re Man Sankirtan-Shri Gaurav Krishna Goswami Ji.mp3

9. Hari Hari Narayana + Jai Govinda Jai Gopala By Mridul Krishna Shastri Ji.mp3

10. Hey BankeyBihari + Jai Radhe Jai Radhe - Mridul Krishna Ji Maharaj.mp3


Govind Chale Aao Gopal Chale Aao Hindi Lyrics :- 


Govind Chale Aao Gopal Chale Aao

गोविन्द चले आओ गोपाल चले आओ
हे मुरलीधर माधव नंदलाल चले आओ |
गोविन्द चले आओ गोपाल चले आओ ,
हे आनन्दघन मोहन रसराज चले आओ  |

निगाहों में तुम हो, ख्यालों में तुम हो ,
यह जन्नत नही है तो फिर और क्या है |
मेरे दिल को जो दर्द तुमने दिया है ,
यह महोब्बत नहीं है तो फिर और क्या है ||1||

मेरी सारी बिगड़ी बनाई है तुमने ,
मेरी जिन्दगी जगमगायी है तुमने |
जहाँ था अँधेरा वहीं रौशनी है ,
यह इनायत नहीं है तो फिर और क्या है ||2||

यह माना कि मेरी जरुरत नहीं है ,
मगर प्यारे तेरी जरुरत है मुझको |
वो मीठी सी बातों से मन मोह लेना ,
यह शरारत नहीं है तो फिर और क्या है ||3||

तुम्हारी दया की नज़र देखते हैं ,
नज़र का अनोखा असर देखते हैं |
निगाहों से पल में वो दिल का बदलना ,
यह हरकत नहीं है तो फिर और क्या है ||4||

''जय श्री राधे कृष्णा ''

Lyrics By Malini



Album : Mere Krishan Kanhaiya
Artist : Anup Jalota
Year : 2000
Genre : International, Indian Subcontinent Traditions
Styles : Indian, Indian Classical, Indian Subcontinent Traditions
Label : T-Series

Mere Krishan Kanhaiya By Anup Jalota Download Here :-


1. Chit Na Dharo.mp3
2. gwaal baal sang raas rachayo.mp3
3. hey manmohan hey chatur shyam.mp3
4. kahan jaake chhupa hai chitchor.mp3
5. laun kahan se chand.mp3
6. mayee yashoda jab kahen.mp3
7. ram ramiyya rata karoon.mp3

Download Complete Album In .Rar Here

ना कोख में पाला ना ही जन्म दिया ,
कृष्णा तुने यशोदा को माँ का मान दिया |
हर नटखट बाल शरारत को करके,
माँ यशोदा को तुने निढाल किया |
माँगा चाँद खिलौना, नहीं खाया माखन जताया,
खाकर मिट्टी मुख में ही सारा ब्रह्माण्ड दिखाया |
फोड़ी मटकी गोपियों की, की माखन चोरी ,
बन के भोला-भाला गया ओखली बंध डोरी|
वात्सल्यमयी माँ बना तुने, किया तृप्त यशोदा को,
ना जाने किस जन्म के फल पाप का दिया देवकी को |

कोख में पाला कष्ट सह जन्म  दिया जिसने,
वंचित रखा क्यों अपनी अठखेलियों से तूने|
यशोदा को तुने सारा-का-सारा प्यार दिया ,
तरसती रही रही कुढ़ती देवकी बस कन्हैया|
कोख में पाला कृष्णा जन्म जिसने तुझको दिया,
तेरे बाल रूप दरश को वही रही तरसती कन्हैया |